Doorion se pyaar karna hi dosti hai,

Bevajah intejar karna hi dosti hai

khuli aankhon se to sabhi dekhte hai

magar band aankho se deedar karna hi dosti hai

दूरिओं से प्यार करना ही दोस्ती है,

बेवजह इंतेजर करना ही दोस्ती है

खुली आँखों से तो सभी देखते है

मगर बंद आँखो से दीदार करना ही दोस्ती है

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

1 × 5 =