Hamare Bail Ne Engineering nhi Padhi Hai

एक इन्जीनीयर को यह देख कर हैरत
हुई कि अंदर के कमरे में बैल कोल्हू
खींच रहा है और तेली बाहर
बैठा चिलम पी रहा है।

इन्जीनीयर ने तेली से कहा, “अगर
बैल रुक जाये तो तुम्हें
पता ही नहीं चलेगा।”

तेली: पता चल जायेगा इन्जीनीयर
साहिब, उसके गले में
बंधी घंटी भी रुक जाएगी।

इन्जीनीयर ने एक मिनट सोचा और
फिर बोला, “अच्छा अगर यह एक
जगह खड़ा होकर बस अपना सिर
हिलाता रहे तो घंटी बजती रहेगी और
तुम समझोगे कि बैल चल रहा है।”

तेली ने बड़ी शांति से जवाब दिया,
“हमारे बैल ने इन्जीनीयिरग
नहीं पढ़ी है।”

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × five =