Labon pe naam hai jinka: Hindi Shayri
लबों पे नाम है जिनका उन्हे कुछ खबर ही नही
ग़ज़ल मे दर्द है जिनका उन्हे कुछ खबर ही नही

जुनून की तितलियाँ उड़ती हैं दिल के नर्म फूलों पे
फ़िज़ा रंगीन है जिनसे उन्हे कुछ खबर ही नही

गमो की शाख पे कोई नशेमन बन नही पाता
खुशी के तिनके जो लाए उन्हे कुछ खबर ही नही

चला भी जाउ मैं दुनिया से तो सब यही कहेंगे
जान ले गयी है जो उन्हे कुछ ही  नही

Labon Pe Naam Hai Jinka Unhe Kuchh Khabar Hi Nahi
Gazal Me Dard Hai Jinka Unhe Kuchh Khabar Hi Nahi
Junoon Ki Titliyan Udati Hain Dil Ke Narm Phoolon Pe
Fiza Rangeen Hai Jinse Unhe Kuchh Khabar Hi Nahi
Gamo Ki Shakh Pe Koyi Nasheman Ban Nahi Pata
Khushi Ke Tinke Jo Laye Unhe Kuchh Khabar Hi Nahi
Chala Bhi Jaun Mai Dunia Se To Sab Yehi Kahenge
Jaan Le Gayi Hai Jo Unhe Kuchh Khabar Hi Nahi

Related Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

nineteen − 16 =