इत्तेफ़ाक़ से सही मुलाकातहो गयी,ढूँढ रहे थे जिन्हे उन से बातहो गयी,देखते ही उन को जाने कहा खोगया मै,वही से दोस्तो “‪‎प्यार‬” की शुरूवातहो गयी…

Read More

दो बाते उनसे की दिल घायल तन्हा और मंज़र अजीब हो गयालोगो ने हमसे पूछा यह आज तुम्हे क्या हो गयाहम बेकरार ‪आँखों‬ से सिर्फ़

Read More

हमने चाहा बहुत पर इज़हार कर ना सके,कट गई उमर पर ‪‎प्यार‬ कर ना सके,उसने माँगी भी तो हमसे जुदाई माँगी,और हम थे की इनकार

Read More